Summary of The Bangle Sellers in Hindi by Sarojini Naidu

‘The Bangle Sellers’ 1912 में डेथ एंड द स्प्रिंग नामक कविता संग्रह में प्रकाशित हुआ था। इस कविता में चूड़ी के विक्रेताओं के एक समूह को दर्शाया गया है जो शहर के शहर अपनी चूड़ी बेचने के लिए घूमते हैं। उनमें से एक कविता का वक्ता बन जाता है। यह कविता का मूड खुशहाल है यह कविता बेहद उत्साहित है। चूड़ी और उनके रंगों के बीच प्रकृति और एक महिला के जीवन के प्रत्येक चरण के बीच तुलना की गई है।

About the Poet Sarojini Naidu in Hindi :

Sarojini naidu (13 February 1879 – 2 March 1949) एक जनप्रिय लेखिका थीं।   जिन्हे  Nightingale of India कहा जाता था। बच्चो के लेखक होने के बावजूत वो अनेक अलग अलग भाषाओं में लिखा करती थी। वह हिंदी को छोड़कर बांग्ला ,इंग्लिश ,तेलगु ,उर्दू और पर्सियन भासा भी जानती थी।वह प्रसिद्ध वैज्ञानिक, दार्शनिक, फिलॉस्फर, शिक्षक अगोरनथ चट्टोपाध्याय और बंगाली कवित्री बरदा सुंदरी देवी की बेटी थीं। कम उम्र से ही  उन्होंने एक कवि के रूप में योग्यता दिखायी और इसी वजह से  हैदराबाद के निजाम द्वारा छात्रवृत्ति में साहित्य का अध्ययन करने के लिए उन्हें विदेश भेज दिया गया। उनकी कविता, अंग्रेजी में लिखी गयी थी, जो ज्यादातर भारतीय विषयों के बारे में थी। हालांकि, वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष बनने वाली दूसरी महिला होने के लिए सबसे अच्छी तरह से जानी  जाती है। वह उत्तर प्रदेश के राज्यपाल बनने वाली पहली महिला थीं। ब्रिटिश राज से भारत की आजादी के लिए एक उत्साही सेनानी, वह गांधीजी के करीबी दोस्त में से एक थी। उत्तर प्रदेश में सत्तर साल की उम्र में उनकी मृत्यु हुई।

Summary of The Bangle Sellers by Sarojini Naidu in Hindi

Stanza 1


Click here to Subscribe to Beamingnotes YouTube channel

Bangle sellers are we who bear

Our shining loads to the temple fair…

Who will buy these delicate, bright

Rainbow-tinted circles of light?

Lustrous tokens of radiant lives,

For happy daughters and happy wives.

ये कबिता एक Bangle seller(चूड़ियां बेचने वाला) के बारे में हैं जो ये बताता हैं की कैसे वो अलग अलग तरह के bangle बेचता हैं और उस औरत के बारे में जो उनसे ये bangle खरीदता हैं। ये कबिता एक bangle बेचने वाले की रोज़ की जीवन के बारे में भी बताता हैं। ये कबिता को कहने वाला एक bangle seller हैं जो पहले दो line में ये बतात हैं की कैसा अनुभति होता हैं उन चमकदार bangle को ले जाने में और कैसे वो मंदिर के बहार ,मेले में ,और अलग अलग जगह ले जाता हैं जिससे की लड़कियां और औरतें उन bangle को खरीद पाए। तीसरे line में एक bangle seller के पुकार को दर्शाया गया हैं जो वो bangle बेचने के लिए पुकारता हैं। वो ये सोचता हैं की ये bangle एक शादीशुदा दंपत्ति के खुसाल जीबन को दर्शाता हैं।

Stanza 2

Some are meet for a maiden’s wrist,

Silver and blue as the mountain mist,


Some are flushed like the buds that dream

On the tranquil brow of a woodland stream,

Some are aglow with the bloom that cleaves

To the limpid glory of new born leaves

दूसरे stanza में bangle seller ये कहते हैं की कैसे वो अलग तरह के चूड़ियाँ अपने साथ लेकर चलते हैं और कैसे अलग अलग महिलाओ को अलग अलग तरह की चूड़ियाँ पसंद आती हैं। वो कहते है की कोई कोई नीले और चांदी के रंग के चूड़ियाँ लेते हैं जो पहाड़ों में धुंध की तरह होती है, जो एक युवती के कलाई के लिए सही होती हैं । किसी को लाल रंग  के bangles पसंद हैं तो किसी को कुछ और। कुछ bangles तो ऐसे चमकते हैं की लगता हैं जैसे एक नए उगे हुए पत्ते में ओस की बुँदे गिरी हुई हैं। यह सभी एक नवयुवती को उसकी सर्वोच सुंदरता प्रदान करने में सहायता करते हैं।  

Stanza 3

Some are like fields of sunlit corn,

Meet for a bride on her bridal morn,

Some, like the flame of her marriage fire,

Or, rich with the hue of her heart’s desire,

Tinkling, luminous, tender, and clear,

Like her bridal laughter and bridal tear.

कुछ bangles पीले रंग के हैं जो एक मकई के खेत की तरह दिखाई पड़ते हैं। और ये रंग एक युवती जिसकी शादी बहुत जल्दी होने वाली हैं उसकी बाज़ुओ पे अच्छा लगता हैं। कुछ bangles आग की तरह लाल रंग के हैं और कुछ नारंगी रंग के हैं जो एक शादी होने वाले लड़की के उत्साह और चाहत को दर्शाता हैं। ये अदभुत रंग के bangles चमकदार और पारदर्शी हैं और उसके साथ साथ tender भी है। इन चूड़ियों की आवाज़ एक नए दुल्हन की हसी की तरह सुनने में लगती हैं और साथ ही साथ tender उसके अपने घर छोड़कर ससुराल जाने के वक़्त के आंसुओ को दर्शाता हैं।

Stanza 4

Some are purple and gold flecked grey

For she who has journeyed through life midway,

Whose hands have cherished, whose love has blest,

And cradled fair sons on her faithful breast,

And serves her household in fruitful pride,

And worships the gods at her husband’s side.

अंतिम के lines एक औरत की शादीशुदा ज़िन्दगी को दर्शाता हैं। सोने के रंग के साथ साथ बैंगनी और grey flex की बनावट के bangles एक मध्य युग के औरत के जीवन का प्रतिक हैं। इस उम्र तक वो बच्चो के माँ बन चुकी होती है और अपने पति का समर्थन ही उनका मुख्य उद्देश्य होता है। और इसी वजह से इस समय के जीवन में एक औरत अपने ऊपर गर्भ महसूस करती हैं।

Suggested Reading : Stanza-wise Summary of The Bangle Sellers by Sarojini Naidu

Suggested Reading : Bangle Sellers Poem Summary by Sarojini Naidu

Abhishek is a marketing research and social media consultant who developed a keen interest in blogging. He can be contacted at dey.abhishek99@gmail.com

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply