Summary of The Lake Isle of Innisfree by W B Yeats in Hindi

0

About The Poet :

विलियम बटलर यॉट्स (डब्ल्यू बी येट्स) का जन्म आयरलैंड के काउंटी डबलिन में सैंडिमउंट में वर्ष 1865 में हुआ था। कविता में उनकी रूचि आयरिश किंवदंतियों में आकर्षण के कारण शुरुआती उम्र में आई थी। कविता का उनका सबसे पुराना प्रकाशन वर्ष 1889 में था, हालांकि उन्होंने इससे पहले कविता लिखी थी। उन्हें 20 वीं शताब्दी के सबसे महत्वपूर्ण कवियों में से एक माना जाता है। वह कई अन्य लोगों के साथ आयरिश साहित्य के पुनरुत्थान के लिए ज़िम्मेदार है। उनके सबसे उल्लेखनीय कार्यों में ‘जब आप पुराने हैं’, ‘उसकी चिंता’ और ‘स्वयं और आत्मा का एक संवाद’ शामिल है। वह एक बहुमुखी लेखक थे और उन्होंने कई रूपों में अपनी कविता लिखी थी। उन्हें वर्ष 1923 में साहित्य में नोबल पुरस्कार मिला। 1939 में उनकी मृत्यु 73 वर्ष की अवस्था में हुई।

The Lake Isle of Innisfree by W B Yeats 

I will arise and go now, and go to Innisfree,

And a small cabin build there, of clay and wattles made;

Nine bean rows will I have there, a hive for the honeybee,

And live alone in the bee-loud glade.

And I shall have some peace there, for peace comes dropping slow,

Dropping from the veils of the morning to where the cricket sings;

There midnight’s all a-glimmer, and noon a purple glow,

And evening full of the linnet’s wings.

I will arise and go now, for always night and day

I hear lake water lapping with low sounds by the shore;

While I stand on the roadway, or on the pavements grey,


Click here to Subscribe to Beamingnotes YouTube channel

I hear it in the deep heart’s core

Summary of The Lake Isle of Innisfree by W B Yeats in Hindi

यह कविता वर्ष 1893 में लिखी गई थी। काउंटी स्लिगो में  Innisfree एक छोटा द्वीप है। यह आयरलैंड के तट के पास एक जगह है। डब्ल्यू बी येट्स ने अपने बचपन की छुट्टियों को काउंटी सिल्गो में बिताया और इसी वजह से वे इस जगह को बहुत प्यार करने लगे । कविता को अपने बचपन की शांत जगह पर लौटने के लिए वयस्क यॉट की लालसा कहा जा सकता है।

प्रस्तुत पंक्तियों में कवि कहते हैं कि वह उठेंगे और आयरलैंड के एक छोटे से द्वीप, इन्सफ्री में चले जायेंगे।  वह वहां जाकर मिट्टी और घर बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली अन्य सामग्री, के इस्तेमाल से अपने लिए एक मकान का निर्माण करेगा। वह खेत में नौ पंक्तियों में कुछ सेम लगाएगा। वह शहद इकठ्ठा करने के लिए मधुमक्खी के छत्ते ढूंढेगा। और वह उस जगह में अकेले रहेंगे, उसके चारों ओर मधुमक्खी की गूंज के साथ। कवि बचपन में इस जगह में घूम चूका था और इस जगह की प्राकृतिक सुंदरता ने उनका मन मोह लिया था। और इसी कारण वस वे इस जगह में वापस जाने की ईच्छा वयक्त करता है।

कवि के अनुसार उसे उस जगह पर वो शांति मिलेगी जो उन्हें शहर की शोर गुल मे नहीं मिल सकता। उस जगह पर सुबह उठकर ही कवि को शांति महसूस होती है जो की दोपहर और रात्रि में भी कवि को शांति महसूस होती है।  और इसी वजह से कवि फिर से उस द्वीप में जाने की इच्छा वयक्त करता है। वह शहर के शोर गुल में भी झरने में बहने वाले पानी की मधुर ध्वनि को सुन सकता है, क्युकी वह अपने हृदय में इसे महसूस करता है और उसे इस बात से सुकून मिलती है। और इसी वजह से वह इस भीड़ भाड़ को छोड़कर उस द्वीप की प्राकृतिक सुंदरता का लुफ्त उठाना चाहता है। जिसे की उसने अपने बचपन में महसूस किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.