Summary of Aunt Jennifer’s Tigers by Adrienne Rich in Hindi

0

About the Poet:

अमेरिका के अग्रणी सार्वजनिक दार्शनिकों में से एक, एड्रियान रिच, एक कवि, निबंधक, और नारीवादी थे। उन्हें 20 वीं शताब्दी के सबसे बड़े पैमाने पर पढ़ने और शक्तिशाली कवियों में से एक कहा जाता था। 16 मई, 1 929 को एड्रियान रिच का जन्म बाल्टीमोर, मैरीलैंड में हुआ था। उन्होंने रैडक्लिफ कॉलेज से अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की। 1951 में उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी की। उसी वर्ष प्रकाशित कविता “ए चेंज ऑफ वर्ल्ड” के अपने पहले संग्रह के लिए येल सीरीज ऑफ़ यंग कवि पुरस्कार के लिए उन्हें सम्मानित किया गया।


एड्रियान रिच ने एक कवि और सिद्धांतवादी के रूप में समकालीन महिला आंदोलन के क्षेत्रों में समान प्रभाव डाला। कई वर्षों तक वह राजनीति, जाति, भाषा, शक्ति और महिलाओं की संस्कृति की राजनीति पर सबसे शक्तिशाली, चुनौतीपूर्ण आवाजों में से एक बन रही। नारीवादी लेखन का कोई ऐसा संकलन नहीं है जिसमें उनके काम शामिल नहीं हैं, या विशेष रूप से उनके विचारों को शामिल नहीं करते हैं। 1997 में, संयुक्त राज्य सभा के प्रतिनिधियों और अध्यक्ष गिंगरिच के वोट का विरोध करने के लिए उन्होंने कला के राष्ट्रीय पदक के सम्मान से इंकार कर दिया।

Summary of Aunt Jennifer’s Tigers by Adrienne Rich in Hindi

Aunt Jennifer’s tigers prance across a screen,

Bright topaz denizens of a world of green.

They do not fear the men beneath the tree;

They pace in sleek chivalric certainty.

कविता के प्रथम पंक्तियों में कवि अपने कल्पना के बाघों का चित्रण करते हैं। उनको कल्पना का बाघ रंगो से भरा हुआ है और वह बहुत ही शक्तिशाली है एवं उसमे ऊर्जा भरी हुई है। ठीक उसी प्रकार जैसे हरे भरे जंगलो में बाघों का समूह एक साथ रहता हो।


कविता के पहले चरण में, बाघों को चिकना चतुरता एवं निश्चितता में आगे बढ़ता हुआ दिखाया गया है। बाघ आगे और आगे बढ़ रहे हैं, क्योंकि उन्हें पेड़ के शीर्ष पर पहुंचना है जहाँ पुरुष पहले से ही हैं। बाघ आकर्षक और स्वस्थ हो सकते हैं, या उनके पास वर्चस्व की उस पुरुष गुणवत्ता हो सकती है जो अक्सर अकल्पनीय होती है। फिर भी, कवियत्री ने इन्हे  एक चिकना शिवलिक के रूप में दर्शाया है। बहादुर होने के लिए सम्मानजनक और लगातार बहादुर होना चाहिए जिसमें महिलाओं के प्रति शिष्टाचार भी शामिल है। प्रशंसनीय होने के कारण हर बार ईमानदारी का सुझाव मिलता है। इसलिए, चिकना शिवलिक मतलब है कि बाघ महिलाओं के प्रति सुंदर और समझदार हैं।

Aunt Jennifer’s fingers fluttering through her wool

Find even the ivory needle hard to pull.

The massive weight of Uncle’s wedding band

Sits heavily upon Aunt Jennifer’s hand.

दूसरे चरण में, चाची जेनिफर सुई का काम कर रही है। वह अपनी उंगलियों के माध्यम से उन की सिलाई कर रही है। उनकी उंगलियाँ लगातार हिल रहे हैं। यह उनकी कला भी हो सकती है जिसके द्वारा वह वह अपने हातों के द्वारा सिलाई बुनाई का काम बड़ी ही कुशलता के साथ करती है। वहीँ दूसरी और उनको हातों के हिलने का और एक कारण हो सकता है की वे बहुत ही कमजोर हो चुकी है और उन्हें छोटे से सुई को खींचने में भी प्रॉब्लम हो रही है। यहाँ तक की उनके हाथ में सादी का रिंग भी उन्हें बहुत भारी प्रतीत हो रहा है।

When Aunt is dead, her terrified hands will lie

Still ringed with ordeals she was mastered by.

The tigers in the panel that she made

Will go on prancing, proud and unafraid.

कविता की आखरी पंक्तियों में कवि ने यहाँ Aunt Jennifer की दुर्दशा से पर्दा हटाया है। उनके अनुसार जेनिफर का पूरा वैवाहिक जीवन किसी डर में बिता है। ऐसा डर जिससे की वह बहुत डरती थी। स्पीकर के अनुसार विवाह  के समय जेनिफर को जो वेडिंग रिंग पहनाया गया था वो इस बात का साबुत था की अब वह स्वतंत्र नहीं है। अब उन्हें कोई अपने नियंत्रण में रखेगा और उनकी बातो को सुनकर उनकी आज्ञा का पालन करना ही जेनिफर का कर्तव्य बन गया है। और इसी वजह से जेनिफर अपने मालिक अर्थात पति से हमेसा डरी हुई रहती है। जबकि उनके काल्पनिक बाघ बे डर निडरता से अपना जीवन गर्व पूर्ण वयतीत कर सकते हैं क्युकी उसे किसी आदमी का डर नहीं है। बल्कि वह आदमी का सामना करता है बड़ी ही निडरता से।

Leave A Reply

Your email address will not be published.