Summary of A Photograph by Shirley Toulson in Hindi

About the Poet Shirley Toulson in Hindi :

Shirley Toulson एक अंग्रेजी कवियत्री हैं जो 20th May 1924 Henley-on-Thames, England में पैदा हुई थी। वैसे वो अपने जीवन के अधिकतर वक़्त Somerset में ही रही। उन्होंने creative writing के टीचर के रूप में भी काम किया। सन 1967 से 1970 तक वे Teacher नामक एक journal की एडिटर भी रही।  Toulson की पहेली कविता संग्रह “shadows in an orchard” सन 1960 में प्रकाशित हुई। उनकी प्रचलित किताब The Drovers’ Roads of Wales और  The Drovers Roads of South Wales  British के countrysides को दर्शाते हैं।  Toulson अभी भी ज़िंदा हैं और कहा जाता हैं की वो अभी दो किताब पर काम कर रही हैं। Celtic church in Britain  3rd से 8th centuries  और एक जो  Somerset के country hitory का वर्णन करेगा।

Summary of A Photograph by Shirley Toulson in Hindi

यह कविता 19 लाइन का हैं जिसमे कोई stanza नहीं हैं बल्कि meaningful segments हैं जो इस कविता को आसानी से समझने के लिए बनाया गया हैं। ये कविता first person के हिसाब से बनाया गया हैं जिसका ये मतलब हैं की कवियत्री अपने से बात कर रही हैं।

Lines 1 – 4:


Click here to Subscribe to Beamingnotes YouTube channel

The cardboard shows me how it was

When the two girl cousins went paddling

Each one holding one of my mother’s hands,

And she the big girl – some twelve years or so.

इन पंक्तियों में, कवियत्री एक फोटो एलबम की ओर देखता है। वह फोटो एल्बम कार्डबोड का बना हुआ था। उस फोटो एल्बम में एक फोटो की तरफ देखता है। इस फोटो में तीन लड़कियाँ होती हैं। सबसे लम्बी एवं बड़ी लड़की बिच में कड़ी हुई थी जबकि दो छोटी लड़किया उसके अगल बगल उसके हाथ पकड़ के खड़ी हुई थी। कवियत्री के अनुसार बिच वाली लड़की उसकी माँ की फोटो है और अगल बगल माँ की बहने हैं। जब यह फोटो लिया गया था उस वक्त कवियत्री के अनुसार उनकी माँ की उम्र 12 साल के लगभग होगी। और यह फोटो उस दिन लिया गया था जब वे समुद्र तट पर घूमने गई थी।

Lines 5 – 9:

All three stood still to smile through their hair

At the uncle with the camera, A sweet face

My mother’s, that was before I was born

And the sea, which appears to have changed less

Washed their terribly transient feet.

इन पंक्तियों में कवियत्री उस समय के बारे में और भी विस्तार से बताती है जब उनकी माँ और उसकी बहनो का फोटो लिया गया था। कवियत्री के अनुसार ये फोटो उनकी माँ के uncle ने लिया था। उन्होंने तीनो लड़कियों को पोज़ देने बोला होगा और लड़कियों ने वैसा ही किया होगा। तीनो लड़कियों ने अपने भीगे ज़ुल्फो को खुला रखा था जिससे उनके चेहरे की कुछ भाग ढक जा रहे थे। यधपि की बालो से उनका चहेरा ढक जा रहा था लेकिन इसके बाद में उनका मुस्कुराना साफ़ नजर आ रहा था। उनके हस्ते हुए चेहरों में से एक चहेरे ने कवियत्री की ध्यान को खींचा था। वो उनकी माँ का चहेरा था जो कवियत्री के हिसाब से बहुत प्यारी थी। उनके हिसाब से ये फोटो उनके जन्म के बहुत पहले ली गई थी और इसी कारण वश अब उनकी माँ बहुत चेंज हो चुकी है जो की इस फोटो से नहीं मिलती है। लेकिन इसके विपरीत समुद्र जहां ये फोटो लिया गया था वो आज भी वैसा ही है उसमे उसमे अपेक्षाकृत कम बदलाव आया है। जिस समय यह फोटो लिया गया था उस समय समुद्र की लहरे बार कवियत्री की माँ और उनकी बहनो की पैरो को धो रही थी। कवि ने उन पैरो को अस्थाई बताया है क्युकि वो ज्यादा दिन तक वैसे नहीं रहे और सभी लड़किया बड़ी होगी। और इस तरह उनका बचपन ज्यादा दिन तक नहीं चल पाया।  


Lines 10 – 13:

Some twenty- thirty- years later

She’d laugh at the snapshot. “See Betty

And Dolly,” she’d say, “and look how they

Dressed us for the beach.” The sea holiday

इन पंक्तियों में, कवित्री फोटोग्राफ को देखना बंद कर देती है और यह याद करती है कि उसकी मां ने तस्वीर के बारे में क्या कहा था। कवि यह सुनिश्चित नहीं कर पा रही है की यह तस्वीर कितनी पुरानी है, 20 साल या फिर 30 साल। लेकिन उन्हें अपनी माँ की कही हुई बात की उनकी बहने बचपन में कैसे दिखती थी यह याद है। कवित्री की माँ ने उन्हें ये भी बताया था की कैसे उनके माता पिता ने उन्हें उस दिन तैयार किया था घुमाने के लिए। उन्हें लगता है की उनके माता पिता ने पहले ही उनके फोटो लेने का निर्णय कर लिया होगा। इसलिए उन्हें इस तरह तैयार कराया गया था।

Lines 14 – 15:

was her past, mine is her laughter. Both wry

With the laboured ease of loss

कवियत्री बताती हैं की उनके माँ इन तस्वीरों को अतीत की यादो को फिर से जीने का एक जरिया समझती थी जो की पीछे छूट चूका था। दूसरे ओर कवियत्री अपने माँ के बारे में  सोचती हैं की कैसे वो हस्ती थी और हर एक समय वो उनको याद करती हैं।दोनों महिलाएं ही एक तस्वीर को देख कर अपने बीतें हुआ कल को याद कर करती हैं  जो उनको और वापस नहीं मिल सकता।

Lines 16 – 19:

Now she has been dead nearly as many years

As that girl lived. And of this circumstance

There is nothing to say at all,

Its silence silences.

इन पंकितयों में कवियत्री कहती हैं की उनके माँ को मरे हुआ 12 साल हो गए हैं और वो एकदम वही उम्र हैं जो उस फोटो में उनकी माँ के थे। वह अपने माँ के मृत्यु के बारे में सोच तो पा रही है लेकिन वो ये नहीं बता सकती  की कैसे उनके माँ की मृत्यु ने उनके जीवन को प्रभावित किया। सच तो यह है की जिस मृत्यु के कारण उनकी माँ चुप हो गई हमेशा की लिए उसी कारण वश कवित्री के पास भी कोई शब्द नहीं रहे बोलने के लिए।

Suggested Reading: Summary of A Photograph by Shirley Toulson

Suggested Reading: Summary and Analysis of A Photograph by Shirley Toulson

Abhishek is a marketing research and social media consultant who developed a keen interest in blogging. He can be contacted at dey.abhishek99@gmail.com

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply