Sangatkar- Manglesh Dabral (Sangatkar Class 10 Hindi)

कक्षा - 10 'अ' क्षितिज भाग 2             पाठ 9 संगतकार - मंगलेश डबराल संगतकार कविता का सारांश :- प्रस्तुत पंक्तियों में कवि ने उन लोगों की चर्चा की है जो कभी प्रसिद्धि का स्वाद नहीं चखते फिर भी निरंतर कार्य करते चले जाते हैं उन्हें कभी उनके काम के लिए तारीफ़ सुनने को नहीं मिलती…
Read More...